IMC SHRI TULSI USES AS PAIN KILLER

IMC SHRI TULSI USES AS PAIN KILLER

IMC SHRI TULSI -श्री तुलसी

“श्री तुलसी पीएं, निरोग जीएं”

(पांच तरह के तुलसी का सत्)

IMC SHRI TULSI

GET IMC SHRI TULSI ON DISCOUNT PRICE ON FREE REGISTRATION

IMC FREE REGISTRATION

📝REGISTRATION📝 के लिए आवश्यक दस्तावेज की फ़ोटो

🎫  आई डी प्रूफ ( आधार कार्ड – FRONT SIDE PHOTO )  🎫

🎫  पता प्रूफ (आधार कार्ड – BACK SIDE PHOTO )  🎫

🎫  पैन कार्ड फोटो  🎫

🙎‍♀  पासपोर्ट साइज फोटो 🙎‍♀

आप ये सभी DOCOMENTS हमारे WHAT’S UP नंबर 📱 83960-07444📱 पर भेज सकते है जेसे ही आपकी डिटेल्स हमारे पास आएगी हम जल्द ही आपसे कांटेक्ट📞  करेंगे

आप हमारा नीचे दिया गया ONLINE FORM भी भरकर हमें भेज सकते है:

आई.एम.सी में रजिस्टर होने के लिए निचे दिए फॉर्म को भरें जल्द ही हम आपसे कांटेक्ट करेंगे

    Title*    

    S/D/W of

    S/D/W Name

    Complete Address

    Nominee Information (optional)

    [recaptcha]

    तुलसी मुख्य रूप से पांच प्रकार के पायी जाती है:-

    1. श्याम तुलसी

    2. राम तुलसी

    3. नींबू तुलसी

    4. वन तुलसी

    5. श्वेत/विश्नू तुलसी

    इन पांच प्रकार की तुलसी विधि द्वारा सत् निकाल कर श्री तुलसी का निर्माण किया गया है ।
    तुलसी को इंग्लिश में होली बेसिल(holy basil)के नाम से जाना जाता है हिंदी में इसका नाम तुलसी है जिसका अर्थ होता है अतुलनीय अर्थात जिसकी किसी से तुलना न की जा सके इसके गुणों को देखते हुए तुलसी को जड़ी बूटियों में जड़ी बूटियों की रानी माना जाता है तुलसी में सबसे बढ़िया एंटीऑक्सीडेंट(anti-oxidant), एंटीइंफ्लेमेटरी(anti-inflammatory), एंटीवायरल(anti-viral), एंटीएलर्जीक(anti-allergic) और एंटीडिजीज(anti-disease)

    गुण है।

    IMC SHRI TULSI -श्री तुलसी   का प्रयोग 200 से अधिक बीमारियों में किया जाता है जैसे कि फ़्लू,स्वाइन फ्लू सभी तरह के बुखार जैसे कि डेंगू, मलेरिया,टाइफाइड,चिकनगुनिया आदि खांसी, जुकाम, जोड़ों का दर्द, ब्लड प्रेशर, मोटापा, शुगर, एलर्जीक हेपेटाइटिस, पेशाब संबंधी समस्या, वात के रोग, नकसीर, फेफड़ों में सूजन, अल्सर, तनाव, वीर्य की कमी, थकान, भूख में कमी, उल्टी

    दर्द से राहत दिलाने में श्री तुलसी का प्रयोग 

    IMC SHRI TULSI -श्री तुलसी  में एक विशेष प्रकार का रासायनिक पदार्थ COX-2 INHIBITOR होता है जो दर्द से  राहत दिलाने में सहायक है।

    imc-shri-tulsi-as-pain-killer
    imc-shri-tulsi-as-pain-killer

    इसके अलावा सूजन तथा न्यूरोलॉजिकल(NEUROLOGICAL) दर्द को कम करने में सहायक है तथा इसका एलोपैथिक दवाओं की तरह कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है।

    imc-shri-tulsi-for-neurological-pain
    imc-shri-tulsi-for-neurological-pain

    IMC SHRI TULSI-तुलसी में वात विकार को मिटाने का गुण पाया जाता है । इसलिए यदि वात की प्रबलता से नसों में दर्द हो तो उसमें श्री तुलसी का प्रयोग बहुत लाभदायक होता है।

    imc-shri-tulsi-for-vata-dosha
    imc-shri-tulsi-for-vata-dosha

    IMC SHRI TULSI-श्री तुलसी की 8-10 बूँदे उबालते पानी में डालकर उससे उत्पन्न भाप को वात (गैस) के कारण जिस अंग में दर्द हो रहा हो उस अंग परभाप लेने से दर्द में आराम मिलता है।

    imc-shri-tulsi-for-vata-dosha
    imc-shri-tulsi-for-vata-dosha

    कमर दर्द में श्री तुलसी(SHRI TULSI) की 10 बूँद रोज़ पीने तथा 4-5 बूँदो को पेन अवे ऑयल में मिलाकर मालिश करने से आराम मिलता है।

    imc-shri-tulsi-uses-for-back-pain
    imc-shri-tulsi-uses-for-back-pain

    घुटनो के दर्द में श्री तुलसी(SHRI TULSI) की 10 बूँद रोज़ पीने तथा 4-5 बूँदो को पेन अवे ऑयल में मिलाकर मालिश करने से आराम मिलता है।

    imc-shri-tulsi-for-knee-pain
    imc-shri-tulsi-for-knee-pain

    गर्दन दर्द में श्री तुलसी (SHRI TULSI) की 10 बूँद रोज़ पीने तथा 4-5 बूँदो को पेन अवे ऑयल में मिलाकर मालिश करने से आराम मिलता है।

    imc-shri-tulsi-for-neck-pain-cervical-pain
    imc-shri-tulsi-for-neck-pain-cervical-pain

    सभी तरह के जोड़ों के दर्द में श्री तुलसी (SHRI TULSI) की 10 बूँद रोज़ पीने तथा 4-5 बूँदो को पेन अवे ऑयल में मिलाकर मालिश करने से आराम मिलता है।

    श्री तुलसी (SHRI TULSI) तथा सरसों का तेल मिलाकर थोड़ी-थोड़ी देर बाद मोच या चोट पर लगाने से दर्द में आराम मिलता है और सूजन हो गई हो तो सूजन दूर होती है।

    imc-shri-tulsi-uses-for-joints-pain
    imc-shri-tulsi-uses-for-joints-pain

    श्री तुलसी (SHRI TULSI) को घाव तथा जख्मों को भरने में भी इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि यह एक अच्छे एंटीसेप्टिक(ANTI-SEPTIC) के रूप में भी कार्य करता है।

    imc-shri-tulsi-as-antiseptic
    imc-shri-tulsi-as-antiseptic

    फोड़े, जख्म व घाव होने पर श्री तुलसी (SHRI TULSI) को लगाना चाहिए। इससे फोड़े अच्छी तरह से पककर फूट जाते है और दर्द से आराम मिलता है।

    imc-shri-tulsi-for-boils-wounds
    imc-shri-tulsi-for-boils-wounds

    श्री तुलसी (SHRI TULSI) से घाव को धोने से घाव व जख्म जल्दी भर जाते हैं।

    imc-shri-tulsi-for-boils-wounds
    imc-shri-tulsi-for-boils-wounds

    नारियल के तेल में श्री तुलसी (SHRI TULSI) को मिलाकर जले हुए अंगों पर लगाने से जलन व दर्द शांत होता है और फफोले भी नहीं पड़ते। इसे छाले व घाव पर भी लगाया जा सकता है।

    imc-shri-tulsi-for-burn-wounds
    imc-shri-tulsi-for-burn-wounds

    एलो जेल में श्री तुलसी (SHRI TULSI) को मिलाकर जले हुए अंगों पर लगाने से जलन व दर्द शांत होता है और फफोले भी नहीं पड़ते। इसे छाले व घाव पर भी लगाया जा सकता है।

    imc-shri-tulsi-for-burn-wounds
    imc-shri-tulsi-for-burn-wounds

    सिर दर्द व माइग्रेन में श्री तुलसी (SHRI TULSI) की 8-10 बूँदे , एलो जेल में मिलाकर सिर और बालों की जड़ों में मालिश करने से सिरदर्द की समस्या से आराम मिलता है।

    imc-shri-tulsi-for-headace-migraine
    imc-shri-tulsi-for-headace-migraine

    सिर दर्द व माइग्रेन में श्री तुलसी (SHRI TULSI ) को हल्का सा गर्म करके एक-एक बूंद नाक में टपकाने से सिर दर्द व माइग्रेन से राहत मिलती है।

    imc-shri-tulsi-for-headace-migraine
    imc-shri-tulsi-for-headace-migraine

    सिर दर्द से पीड़ित रोगी को सुबह खाली पेट श्री तुलसी (SHRI TULSI)में शहद मिलाकर चाटना चाहिए। इससे सिर दर्द व माईग्रेन में भी लाभ मिलता है।

    imc-shri-tulsi-for-headace-migraine
    imc-shri-tulsi-for-headace-migraine

    कान दर्द व कान बहने में श्री तुलसी (SHRI TULSI) को हल्का सा गर्म करके एक-एक बूंद कान में टपकाने से कान दर्द से राहत मिलती है।

    imc-shri-tulsi-for-ear-pain-ear-discharge
    imc-shri-tulsi-for-ear-pain-ear-discharge

    यदि कनपटी में दर्द हो तो श्री तुलसी (SHRI TULSI) को कनपटी पर मलने से आराम मिलता है।

    imc-shri-tulsi-for-ear-pain-ear-discharge
    imc-shri-tulsi-for-ear-pain-ear-discharge

    दांत दर्द में श्री तुलसी (SHRI TULSI) की 8-10 बूँदे गर्म पानी में डालकर कुल्ला करने से आराम मिलता है। इससे दांतों का दर्द, मसूढ़ों से खून आना व दांतों के अन्य रोग समाप्त होते हैं।

    imc-shri-tulsi-uses-for-dental-pain-dental-problems
    imc-shri-tulsi-uses-for-dental-pain-dental-problems

    श्री तुलसी (SHRI TULSI) की 8-10 बूँदे, हल्दी व सेंधानमक मिलाकर गर्म पानी में मिला लें और इससे कुल्ले करें। इससे मुंह, दांत तथा गले के सभी विकार दूर होते हैं।

    imc-shri-tulsi-uses-for-dental-pain-dental-problems
    imc-shri-tulsi-uses-for-dental-pain-dental-problems

    श्री तुलसी (SHRI TULSI) को शहद में मिलाकर बच्चे के मसूढ़े पर लगाने से और थोड़ा सा चटाने से दांत निकलते समय होने वाला दर्द ठीक हो जाता है।

    imc-shri-tulsi-uses-for-dental-pain-dental-problems
    imc-shri-tulsi-uses-for-dental-pain-dental-problems

    गले के दर्द में श्री तुलसी (SHRI TULSI) ड्राप्स को शहद के साथ सेवन करने पर बहुत लाभ मिलता है।

    imc-shri-tulsi-uses-for-throat-pain
    imc-shri-tulsi-uses-for-throat-pain

    गले के दर्द में श्री तुलसी (SHRI TULSI) की 8-10 बूँदे गर्म पानी में डालकर गरारे करें।

    imc-shri-tulsi-uses-for-throat-pain-sore-throat
    imc-shri-tulsi-uses-for-throat-pain-sore-throat

    श्री तुलसी (SHRI TULSI) ड्राप्स (2-3) को अदरक के रस (एक चम्मच) में मिलाकर दिन में 3 बार पीने से पेट के दर्द में आराम मिलता है।

    imc-shri-tulsi-for-abdominal-pain
    imc-shri-tulsi-for-abdominal-pain

    महिलाओं में मासिक धर्म के समय होने वाले कमर दर्द में श्री तुलसी (SHRI TULSI) की 8-10 बूंदें गर्म पानी में मिलाकर पीने से कमर दर्द में बहुत लाभ मिलता है व मासिक धर्म भी खुलकर होता है।

    imc-shri-tulsi-for-menstrual-pain
    imc-shri-tulsi-for-menstrual-pain

    श्री तुलसी के बारे में सभी डिटेल्ज़ यहाँ से पढ़ें :-

    http://dgayurveda.com/imc_products/health-care-products-hindi/imc-tulsi-ark/

    IMC SHRI TULSI USES IN CHILDREN’S

    IMC SHRI TULSI USES IN CHILDREN’S

    IMC SHRI TULSI -श्री तुलसी

    “श्री तुलसी पीएं, निरोग जीएं”

    (पांच तरह के तुलसी का सत्)

    IMC SHRI TULSI

    GET IMC SHRI TULSI ON DISCOUNT PRICE ON FREE REGISTRATION

    IMC FREE REGISTRATION

    📝REGISTRATION📝 के लिए आवश्यक दस्तावेज की फ़ोटो

    🎫  आई डी प्रूफ ( आधार कार्ड – FRONT SIDE PHOTO )  🎫

    🎫  पता प्रूफ (आधार कार्ड – BACK SIDE PHOTO )  🎫

    🎫  पैन कार्ड फोटो  🎫

    🙎‍♀  पासपोर्ट साइज फोटो 🙎‍♀

    आप ये सभी DOCOMENTS हमारे WHAT’S UP नंबर 📱 83960-07444📱 पर भेज सकते है जेसे ही आपकी डिटेल्स हमारे पास आएगी हम जल्द ही आपसे कांटेक्ट📞  करेंगे

    आप हमारा नीचे दिया गया ONLINE FORM भी भरकर हमें भेज सकते है:

    आई.एम.सी में रजिस्टर होने के लिए निचे दिए फॉर्म को भरें जल्द ही हम आपसे कांटेक्ट करेंगे

      Title*    

      S/D/W of

      S/D/W Name

      Complete Address

      Nominee Information (optional)

      [recaptcha]

      तुलसी मुख्य रूप से पांच प्रकार के पायी जाती है:-

      1. श्याम तुलसी

      2. राम तुलसी

      3. नींबू तुलसी

      4. वन तुलसी

      5. श्वेत/विश्नू तुलसी

      इन पांच प्रकार की तुलसी विधि द्वारा सत् निकाल कर श्री तुलसी का निर्माण किया गया है ।
      तुलसी को इंग्लिश में होली बेसिल(holy basil)के नाम से जाना जाता है हिंदी में इसका नाम तुलसी है जिसका अर्थ होता है अतुलनीय अर्थात जिसकी किसी से तुलना न की जा सके इसके गुणों को देखते हुए तुलसी को जड़ी बूटियों में जड़ी बूटियों की रानी माना जाता है तुलसी में सबसे बढ़िया एंटीऑक्सीडेंट(anti-oxidant), एंटीइंफ्लेमेटरी(anti-inflammatory), एंटीवायरल(anti-viral), एंटीएलर्जीक(anti-allergic) और एंटीडिजीज(anti-disease)

      गुण है।

      IMC SHRI TULSI -श्री तुलसी   का प्रयोग 200 से अधिक बीमारियों में किया जाता है जैसे कि फ़्लू,स्वाइन फ्लू सभी तरह के बुखार जैसे कि डेंगू, मलेरिया,टाइफाइड,चिकनगुनिया आदि खांसी, जुकाम, जोड़ों का दर्द, ब्लड प्रेशर, मोटापा, शुगर, एलर्जीक हेपेटाइटिस, पेशाब संबंधी समस्या, वात के रोग, नकसीर, फेफड़ों में सूजन, अल्सर, तनाव, वीर्य की कमी, थकान, भूख में कमी, उल्टी

      बच्चों की समस्याओं में श्री तुलसी का प्रयोग:-

      बच्चों को होने वाली समस्याओं जैसे कि खांसी, जुकाम, उल्टीदस्त आदि में श्री तुलसी बहुत अधिक लाभदायक है

      imc-shri-tulsi-uses-in-children-dg-ayurveda

        imc-shri-tulsi-uses-in-children-dg-ayurveda

      चिकन पॉक्स(CHICKEN POX) में श्री तुलसी बहुत अधिक लाभदायक है इसका प्रयोग शहद के साथ करना चाहिए

      Imc-shri-tulsi-chikenpox-childerns-dg-ayurveda
      Imc-shri-tulsi-chikenpox-childerns-dg-ayurveda

      यदि एक बच्चे को दांत निकालने से पूर्व श्री तुलसी प्रतिदिन  दी जाए तो दांत निकलते समय होने वाली परेशानी में बच्चे को लाभ मिलता है दांत आसानी से निकल आते हैं मसूड़ों को श्री तुलसी में शहद मिलाकर उसकी मसाज भी की जा सकती है।

      Imc-shri-tulsi-child’s-teeth-dg-ayurveda
      Imc-shri-tulsi-child’s-teeth-dg-ayurveda

      IMC SHRI TULSI –श्री तुलसी  में शहद मिलाकर देने से बच्चों को खांसी तथा गले में खराश(SORE THROAT)में लाभमिलता है।

      imc-shri-tulsi-sore-throat-in-children’s-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-sore-throat-in-children’s-dg-ayurveda

      गर्म पानी में श्री तुलसी देने से पेट के कीड़ों से राहत मिलती है।

      imc-shri-tulsi-for-intestinal-worms-in-childrens-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-for-intestinal-worms-in-childrens-dg-ayurveda

      दाद, खुजली और त्वचा की अन्य समस्याआओं के लिए तुलसी की बूंदों को एलो जेल में मिलाकर प्रभावित जगह पर लगाने सेकुछ दिनों में यह रोग दूर हो सकता है।

      imc-shri-tulsi-for-skin-disorders-in-children’s
      imc-shri-tulsi-for-skin-disorders-in-children’s

      श्री तुलसी को शरीर पर मल कर सोने से मच्छर नहीं काटते।

      imc-shri-tulsi-for-mosquitoes-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-for-mosquitoes-dg-ayurveda

      तुलसी को शहद में मिलाकर प्रतिदिन पीने से स्मरण शक्ति बढ़ती है और बुद्धि विकसित होती है।

      imc-shri-tulsi-for-memory-power-in-children-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-for-memory-power-in-children-dg-ayurveda

      छोटे बच्चों को श्री तुलसी में मिश्री घोलकर सुबह देने से बच्चों की उल्टी, दस्त, खांसी,सर्दी और जुकाम में आराम मिलता है।

      imc-shri-tulsi-in-child-disorders-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-in-child-disorders-dg-ayurveda

      जुकाम, छींके, सिरदर्द, बुखार, दमा आदि में श्री तुलसी की दो बूँदे शहद में मिलाकर लेने से बहुत लाभ होता है।

      imc-shri-tulsi-in-child-disorders-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-in-child-disorders-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-in-child-disorders-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-in-child-disorders-dg-ayurveda

      श्री तुलसी और नीम्बू का रस समान मात्रा में मिलाकर रात्रि में सिर के बालों में अच्छी तरह से लगाकर सुबह बाल धोने से सिर कीजुएं और लीखें मर जाती हैं।

      imc-shri-tulsi-in-child-disorders-dg-ayurveda
      imc-shri-tulsi-in-child-disorders-dg-ayurveda

      श्री तुलसी के बारे में सभी डिटेल्ज़ यहाँ से पढ़ें :-

      http://dgayurveda.com/imc_products/health-care-products-hindi/imc-tulsi-ark/

      IMC SHRI TULSI – AS WATER PURIFIER

      IMC SHRI TULSI – AS WATER PURIFIER

      IMC SHRI TULSI -श्री तुलसी

      “श्री तुलसी पीएं, निरोग जीएं”

      (पांच तरह के तुलसी का सत्)

      IMC SHRI TULSI

      GET IMC SHRI TULSI ON DISCOUNT PRICE ON FREE REGISTRATION

      IMC FREE REGISTRATION

      📝REGISTRATION📝 के लिए आवश्यक दस्तावेज की फ़ोटो

      🎫  आई डी प्रूफ ( आधार कार्ड – FRONT SIDE PHOTO )  🎫

      🎫  पता प्रूफ (आधार कार्ड – BACK SIDE PHOTO )  🎫

      🎫  पैन कार्ड फोटो  🎫

      🙎‍♀  पासपोर्ट साइज फोटो 🙎‍♀

      आप ये सभी DOCOMENTS हमारे WHAT’S UP नंबर 📱 83960-07444📱 पर भेज सकते है जेसे ही आपकी डिटेल्स हमारे पास आएगी हम जल्द ही आपसे कांटेक्ट📞  करेंगे

      आप हमारा नीचे दिया गया ONLINE FORM भी भरकर हमें भेज सकते है:

      आई.एम.सी में रजिस्टर होने के लिए निचे दिए फॉर्म को भरें जल्द ही हम आपसे कांटेक्ट करेंगे

        Title*    

        S/D/W of

        S/D/W Name

        Complete Address

        Nominee Information (optional)

        [recaptcha]

        तुलसी मुख्य रूप से पांच प्रकार के पायी जाती है:-

        1. श्याम तुलसी

        2. राम तुलसी

        3. नींबू तुलसी

        4. वन तुलसी

        5. श्वेत/विश्नू तुलसी

        इन पांच प्रकार की तुलसी विधि द्वारा सत् निकाल कर श्री तुलसी का निर्माण किया गया है ।
        तुलसी को इंग्लिश में होली बेसिल(holy basil)के नाम से जाना जाता है हिंदी में इसका नाम तुलसी है जिसका अर्थ होता है अतुलनीय अर्थात जिसकी किसी से तुलना न की जा सके इसके गुणों को देखते हुए तुलसी को जड़ी बूटियों में जड़ी बूटियों की रानी माना जाता है तुलसी में सबसे बढ़िया एंटीऑक्सीडेंट(anti-oxidant), एंटीइंफ्लेमेटरी(anti-inflammatory), एंटीवायरल(anti-viral), एंटीएलर्जीक(anti-allergic) और एंटीडिजीज(anti-disease)

        गुण है।

        IMC SHRI TULSI -श्री तुलसी   का प्रयोग 200 से अधिक बीमारियों में किया जाता है जैसे कि फ़्लू,स्वाइन फ्लू सभी तरह के बुखार जैसे कि डेंगू, मलेरिया,टाइफाइड,चिकनगुनिया आदि खांसी, जुकाम, जोड़ों का दर्द, ब्लड प्रेशर, मोटापा, शुगर, एलर्जीक हेपेटाइटिस, पेशाब संबंधी समस्या, वात के रोग, नकसीर, फेफड़ों में सूजन, अल्सर, तनाव, वीर्य की कमी, थकान, भूख में कमी, उल्टी इत्यादि।

        imc-shri-tulsi-as-water-purifier-dg-ayurveda
        imc-shri-tulsi-as-water-purifier-dg-ayurveda

        पीने के पानी को विष व रोगाणुओं से मुक्त करने में सहायक

        आजकल बहुत सी समस्या हमारे पीने के पानी से होती है। अगर श्री तुलसी की दो बूंद 1 लीटर पानी में डालकर 5 मिनट बाद यदि उस जल को पीया जाए तो वह जल विष व रोगाणुओं से मुक्त होकर स्वास्थ्यवर्धक हो जाता है।

        श्री तुलसी के बारे में सभी डिटेल्ज़ यहाँ से पढ़ें :-

        IMC SHRI TULSI -श्री तुलसी (सर्वरोगनाशक) को कैसे व कहाँ-कहाँ उपयोग किया जा सकता है?


        IMC HIMALAYAN BERRY DIP TEA

        IMC HIMALAYAN BERRY DIP TEA

        हिमालयन बैरी टी बैग्स

        HIMALAYAN BERRY DIP TEA

        सम्मिलित सामग्रीः

        • एलोवेरा सत्त Aloevera Sat : Aloe Barbadensis

        • हिमालयन बेरी Himalayan Berry: Hippophae Salicifolis

        • शंखपुष्पी Shankhpushpi : Convolvulus Pluricaulis

        • यष्टिमधु Yashtimadhu : Glycyrrhiza Glabra

        • लौंग cloves : Syzygium Aromaticum

        • तुलसी Tulsi : Ocimum Sanctum

        • नीम्बू सत् Lemon Sat : citrus Medica

        • अदरक Ginger : Zingiber Officinale

        • सरपंखा Sarpunkha : Tophrosia Purpurea

        • काली मिर्च black pepper : Piper nirgrum

        • नागरमोथा Nagarmatha : Cyperus Scariosus

        • अर्जुन सत् Arujna Sat : Terminalia Arjuna

        • इलायची दाना cardamom : Elettaria cardamomum

        • ब्रह्मी सत् Brahmi Sat : Bappa Monnieri

        • दालचीनी Cinnamon : Cinnamomum zeylanicum

        • अश्वगंधा सत् Ashwagandha : Withania Somnifera

        हिमालयन बेरी टी बैग्सः-

        • इसमें विटामिन ए, बी1, बी2, सी, ई और के एवम् पोषक तत्व उच्च मात्रा में पाये जाते हैं और यह प्रोटीन्स, विटामिन्स, एंटी-ऑक्सीडेंट्स, और ऑक्सीजन का उत्तम स्रोत है।

        • हिमालयन बेरी टी बैग्स में शामिल शानदार जड़ी-बूटियों जैसे यष्टिमधु, तुलसी,अदरक, लौंग, नागरमोथा, सरपंखा, ब्रह्मी, अर्जुना इत्यादि हमारे शरीर में एंटी-ऑक्सीडेंट्स केरूप में कार्य करती हैं।

        • यह वजन को कम करने और शुगर को नियंत्रित करने में मदद करती है।

        • पाचन में सुधार करने, भूख बढ़ाने, हृदय को मजबूत व स्वस्थ रखने में सहायक है। यह

        • कोलेस्ट्रॉल दर को कम करती है और रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में लाभकारी है।

        • तनाव को कम करने और चिंता मुक्त रखने में भी सहायक है।

        GET UPTO 18-40% DISCOUNT AFTER FREE REGISTRATION ON OUR WEBSITE FOR IMC PRODUCTS FILL FORM FROM BELOW

        IMC FREE REGISTRATION

        📝REGISTRATION📝 के लिए आवश्यक दस्तावेज की फ़ोटो

        🎫  आई डी प्रूफ ( आधार कार्ड – FRONT SIDE PHOTO )  🎫

        🎫  पता प्रूफ (आधार कार्ड – BACK SIDE PHOTO )  🎫

        🎫  पैन कार्ड फोटो  🎫

        🙎‍♀  पासपोर्ट साइज फोटो 🙎‍♀

        आप ये सभी DOCOMENTS हमारे WHAT’S UP नंबर 📱 83960-07444📱 पर भेज सकते है जेसे ही आपकी डिटेल्स हमारे पास आएगी हम जल्द ही आपसे कांटेक्ट📞  करेंगे

        आप हमारा नीचे दिया गया ONLINE FORM भी भरकर हमें भेज सकते है:

        आई.एम.सी में रजिस्टर होने के लिए निचे दिए फॉर्म को भरें जल्द ही हम आपसे कांटेक्ट करेंगे

          Title*    

          S/D/W of

          S/D/W Name

          Complete Address

          Nominee Information (optional)

          [recaptcha]

          "DG-AYURVEDA-IMC-BUSINESS-WHATS-UP-GROUP-DG-AYURVEDA"

          #imcbusinessyoutube#dgayurvedayoutube#imc#imcproducts

          IMC PILES AWAY CREAM

          IMC PILES AWAY CREAM

          एलो पाइल्स अवे क्रीम

          IMC ALOE PILES AWAY CREAM 30GM

          सम्मिलित सामग्रीः

          • एलोवेरा Aloevera Sat : Aloe Barbadensis

          • पीपली Pippali : Piper Longum

          • सौंठ Sonth : Zingiber officinale

          • कुठ Kuth : Costus speciosus

          • पाशाण भेद Pashanbed : Bergenia Ligulata

          • कनेर Kaner : Nerium Indicum

          • दंतीमूल Dantimool : Baliospermum montanum

          • वायविडंग Vaividang : Embelia Ribes

          • चित्रकमूल Chitrakmool : Plumbago Zeylanica

          • हरीतकी Haritaki : Terminalia Chebula

          • कसीस भस्म Kasis bhasam : Classical Preparation

          • सेंधा नमक Sendha Namak : Sodi chloridum

          • हरिद्रा Curcuma Longa : Curcuma Longa

          आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से तैयार यह क्रीम बवासीर में बहुत ही लाभकारी है।

          प्रभावित क्षेत्र पर हुई सूजन को कम करने में सहायक है, जलन को ठीक करने में सहायक है एवम् ठंडापन लाती है।

          GET UPTO 18-40% DISCOUNT AFTER FREE REGISTRATION ON OUR WEBSITE FOR IMC PRODUCTS FILL FORM FROM BELOW

          IMC FREE REGISTRATION

          📝REGISTRATION📝 के लिए आवश्यक दस्तावेज की फ़ोटो

          🎫  आई डी प्रूफ ( आधार कार्ड – FRONT SIDE PHOTO )  🎫

          🎫  पता प्रूफ (आधार कार्ड – BACK SIDE PHOTO )  🎫

          🎫  पैन कार्ड फोटो  🎫

          🙎‍♀  पासपोर्ट साइज फोटो 🙎‍♀

          आप ये सभी DOCOMENTS हमारे WHAT’S UP नंबर 📱 83960-07444📱 पर भेज सकते है जेसे ही आपकी डिटेल्स हमारे पास आएगी हम जल्द ही आपसे कांटेक्ट📞  करेंगे

          आप हमारा नीचे दिया गया ONLINE FORM भी भरकर हमें भेज सकते है:

          आई.एम.सी में रजिस्टर होने के लिए निचे दिए फॉर्म को भरें जल्द ही हम आपसे कांटेक्ट करेंगे

            Title*    

            S/D/W of

            S/D/W Name

            Complete Address

            Nominee Information (optional)

            [recaptcha]

            "DG-AYURVEDA-IMC-BUSINESS-WHATS-UP-GROUP-DG-AYURVEDA"

            #imcbusinessyoutube#dgayurvedayoutube#imc#imcproducts